UPSC Prelims 2020: सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और यूपीएससी से मांगा जवाब

UPSC: एक ओर जारी हो चुके है प्रवेश पत्र, दूसरी ओर उम्मीदवारों ने स्थगन के लिए दायर की है याचिका, अगली सुनवाई 28 सितंबर को

अथाह ब्यूरो, नई दिल्ली। UPSC सिविल सर्विस प्रारंभिक परीक्षा का आयोजन देश भर के विभिन्न केंद्रों पर 4 अक्टूबर, 2020 को किया जाना है। परीक्षा के लिए उम्मीदवारों के प्रवेश पत्र भी जारी कर दिए गए हैं।

UPSC उम्मीदवारों की ओर से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर सिविल सर्विस प्रारंभिक परीक्षा स्थगित करने की मांग की गई थी। याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार और UPSC को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

याचिका में देश में तेजी से कोविड-19 महामारी के बढ़ते मामलों और कई प्रदेशों में बाढ़ की भयंकर स्थिति की वजह से होने वाली परेशानियों से संबंधित  कारण दिए गए थे।  

न्यायाधीश (सुप्रीम कोर्ट) एएम खानविलकर और संजीव खन्ना की बेंच ने इस मामले की अगली सुनवाई 28 सितंबर को निर्धारित की है।

याचिका दायर करने वालो ने शीर्ष अदालत से सिविल सेवा परीक्षा को दो से तीन महीने के लिये टालने की गुहार लगाई है। उनका कहना है कि उस समय तक बाढ़ और लगातार बारिश की स्थिति में सुधार हो जाएगा और महामारी के संक्रमण के भी कम होने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *